पालीटेक्निक कोर्स क्या है? Fees , Eligibility, Scholarship पूरी जानकारी हिंदी में

पालीटेक्निक कोर्स क्या है? Fees , Eligibility, Scholarship पूरी जानकारी हिंदी में 


पालीटेक्निक कोर्स क्या होता है? , इसे कोन कर सकता है? इसको करने का बाद क्या भविष्य होगा? इसको करने के बाद सैलरी कितनी मिलती है? यही सब सवाल एक स्टूडेंट के मन मे आते है जब उसे कहीं पालीटेक्निक शब्द सुनने मे आता है। तो आज की हम पोस्ट मे इसी कोर्स के बारे मे जानेंगे।





पालीटेक्निक कोर्स क्या है?


सबसे पहले ये जानते है कि पालीटेक्निक आखिर है क्या। तो Polytechnic दो शब्दों से बना है Poly और technic  इसका मतलब होता है बहुत सारी कलाओं का संस्थान। आसान भाषा मे कहे तो एक ऐसा संस्थान जहा पर बहुत सारी कलाओं को पढ़ाया जाता है ।


Polytechnic एक टेक्निकल कोर्स है इसमें आपको किताबों के साथ साथ प्रैक्टिकल वर्क भी कराया जाता है ताकि आपको जॉब के लिए पूरी तरह से तैयार किया जा सके ।


पालीटेक्निक इंजीनियरिंग की पहली सीढ़ी होती है । अगर आप भी polytechnic करने कि सोच रहे है तो इस आर्टिकल से आपको इसके बारे जानने में  बहुत मदद मिलेगी ।


Polytechnic कोर्स एक डिप्लोमा कोर्स है जो तीन साल का होता है आप जिस फील्ड में चाहे ये कोर्स कर सकते है अगर आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग करना चाहते है तो आप कर सकते हो अगर चाहो तो सिविल लाइन में जा सकते हो और भी बहुत सी फील्ड है जिसमे आप जा सकते हो ।


इस कोर्स की खास बात तो ये है कि इसे करने के बाद आप b.tech डिग्री के लिए डायरेक्ट सेकंड इयर यानि दुसरे साल में एडमिशन ले सकते है यानी कि आपका पूरा एक साल बच जाएगा । मान लो आपने डिप्लोमा सिविल इंजीनियरिंग से किया है और अगर आप आगे स्टडी जारी रखना चाहते है तो आप सीधे सेकंड ईयर मे एडमिशन ले सकते है ।


पालीटेक्निक के अंतर्गत आने वाले कोर्स


  • Diploma in Mechanical Engineering
  • Diploma in Electrical Engineering
  • Diploma in Civil Engineering
  • Diploma in Chemical Engineering
  • Diploma in Computer Science Engineering
  • Diploma in IT Engineerig
  • Diploma in EC Engineering
  • Diploma in Electronics Engineering
  • Diploma in Electronics and Telecommunication Engineering
  • Diploma in Petroleum Engineering
  • Diploma in Aerospace Engineering
  • Diploma in Automobile Engineering
  • Diploma in Mining Engineering
  • Diploma in Biotechnology Engineering
  • Diploma in Genetic Engineering
  • Diploma in Plastics Engineering
  • Diploma in Food Processing and Technology
  • Diploma in Agricultural Engineering
  • Diploma in Dairy Technology and Engineering
  • Agricultural Information Technology
  • Diploma in Power Engineering
  • Diploma in Production Engineering
  • Diploma in Infrastructure Engineering
  • Diploma in Motorsport Engineering
  • Diploma in Metallurgy Engineering
  • Diploma in Textile Engineering
  • Diploma in Environmental Engineering


 पालीटेक्निक कौन कर सकता है ?


अगर आप 10th या 12th पास है तो आप इस कोर्स को  कर सकते है । Polytechnic मे एडमिशन लेने के लिए स्टूेंट्स को एक एंट्रेंस एग्जाम देना पड़ता है और अगर आपको गवरनमेंट कॉलेज चाहिए तो आपकी इस एग्जाम में रैंक अच्छी आना बहुत जरूरी है । क्योंकि प्राइवेट कॉलेज की फीस बहुत ज्यादा होती है जहा गवरनमेंट कॉलेज में आप इस कोर्स को 10 से 15 हजार मे कर सकते हो वहीं प्राइवेट कॉलेज में इस कोर्स के आपको 30 से 35 हजार रुपए प्रति वर्ष देने पड़ सकते है । जो कि गवरनमेंट के मुकाबले बहुत ज्यादा है।


पॉलिटेक्निक कोर्स के लिए योग्यता (Eligibility Criteria for polytechnic)


आपको 10th या 12th पास होना चाहिए।
आपके कम से कम 35% मार्क्स होने चाहिए और math, science आपके सब्जेक्ट होने चाहिए ।


पॉलिटेक्निक कोर्स करने के फायदे (Advantages of polytechnic Course)


आप इस कोर्स को 10th या 12th के बाद कर सकते है।
आप इस कोर्स के बाद जॉब भी कर सकते है ।
आपको डिग्री कंप्लीट करने के लिए सीधे सेकंड ईयर में admission मिल जाता हैं
इस कोर्स मे सापको किताबों के साथ - साथ प्रैक्टिकल नॉलेज भी दिया जाता है ।
आप जूनियर इंजीनियर हैं और सरकार में जेई, लोको पायलट, तकनीकी सहायक और कई अन्य पदों पर आवेदन कर सकते हैं।
Polytechnic करने वालो को जॉब लगने के चांस ज्यादा रहते है बीटेक वालो के मुकाबले ।
इस कोर्स को करने के बाद आपको कहीं भी जॉब के लिए ज्यादा भटकना नहीं पड़ेगा ।


इंडिया मे प्रसिद्ध कुछ बेहतरीन पालीटेक्निक कोर्स (Most popular polytechnic course in India)


  1. Diploma in computer science and engineering
  2. Diploma in civil engineering
  3. Diploma in electrical engineering
  4. Diploma in mining
  5. Diploma in mechanical engineering
  6. Diploma in automobile
  7. Diploma in production


पालीटेक्निक मे क्या पढ़ाया जाता है ?


आप जिस भी ब्रांच को चुनते है उसी के सिलेबस के हिसाब से आपकी पढ़ाई कराई जाती है । इसमें एक साल मे आपके 2 सेमेस्टर होते है और उनके पेपर भी दो बार होते है । टोटल आपके 6 सेमेस्टर होते है जिसमे हर सेमेस्टर मे आपके सब्जेक्ट बदले जाते है । पर कुछ सब्जेक्ट ऐसे भी होते है जो दो या तीन सेमेस्टर मे पड़ाया जाता है उनके सिलेबस को अपग्रेड करके ।


पालीटेक्निक कोर्स करने के बाद क्या करे ?


वैसे तो आप इसके बाद जॉब भी कर सकते है लेकिन अगर आप आगे कि स्टडी पूरी करना चाहते है तो आप उसे भी पूरा कर सकते है ।


पालीटेक्निक के बाद जॉब के क्या options है


आप इसके बाद प्राइवेट ओर गवरनमेंट दोनों ही सेक्टर मे जॉब पा सकते है और अगर आपने डिप्लोमा मैकेनिकल से किया है तो आप रेलवे ,या मशीन बनने वाली कंपनी में आराम से काम पा सकते है ,अगर आपने कंप्यूटर जैसी ब्रांच से डिप्लोमा किया है तो आपको डाटा एंट्री,analytics जैसी जॉब मिलेगी ।मतलब आपको कंप्यूटर से रिलेटेड है जॉब मिलेंगे ।


पालीटेक्निक करने के बाद सैलरी कितनी मिलती है ?


आपको सुरुआत मे ज्यादा तो नहीं मिलेगी लेकिन आपकी सुरूआत 10,000 से हो सकती है और अगर आपका placement कॉलेज से हो गया है तो आपको ज्यादा से ज्यादा 20,000 या 25,000 तक कि सैलरी मिल सकती है और बाद में experience के साथ आपकी सैलरी भी बढ़ती जाती है । Diploma salary after 5 years आपको 35,000 से 40,000 तक मिल सकती है पर ये आपके काम के उपर है ।

तो ये थी हमरी पोस्ट polytechnic के उपर अगर आपको इससे रिलेटेड कोई भी सवाल हो तो आप कॉमेंट के द्वारा पूछ सकते है। हमे आपके सवालों के जवाब देने मे खुशी होगी ।

एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने